Niraj Chopda | नीरज चोपड़ा जेवलिन थ्रोवर बन 121 साल का इंतज़ार पूरा कर भारत को गोल्ड मैडल दिया |

ओलंपिक एथलीट्स में गोल्ड मैडल जीतकर नीरज चोपड़ा ने न केवल इतिहास रचा बल्कि 121 साल का इंतज़ार भी पूरा कर भारत को गौरवान्वित किया | शनिवार को खेले गए फाइनल मुकाबले में 87.58 मीटर के बेस्ट थ्रो के साथ जेवलिन थ्रो का गोल्ड मैडल अपने नाम कर जेवलिन थ्रोवर बन गए |

राज्य सरकारों से लेकर भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड , इंडियन ओलंपिक एसोसिएशन आदि ने , जीत के तीन घंटे के आसपास धन की बरसात के बीच नीरज चोपड़ा को 13 करोड़ 75 लाख रुपये का नगद प्राइस देने का एलान कर दिया |

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद व प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सहित गृहमंत्री अमित शाह , सेना प्रमुख आदि ने बधाई दी | 15 अगस्त स्वतंत्रता दिवस पर प्रधानमंत्री उन विजेताओं से मिलेंगे | साथ हीं भारतीय ओलंपिक दल को विशेष रूप से इस अवसर पर आमंत्रित भी किया जाएगा , उसके बाद प्रधानमंत्री इन्हें अपने आवास पर भी आमंत्रित करेंगे |

टोकियो ओलंपिक में 120 से अधिक खिलाड़ी ने भाग लिया | 228 लोगों का दल वहां भारत का प्रतिनिधित्व कर रहा है |

नीरज चोपड़ा हरियाणा के पानीपत के रहने वाले है और उन्होंने अपना मैडल महान एथलीट्स मिल्खा सिंह को समर्पित किया | हालाकि मिल्खा सिंह इस इतिहास को व रचने वाले को अपनी जुबानी बधाई नहीं दे सके , क्यूंकि कुछ हीं दिन पहले उन्होंने दुनियाँ को अलविदा कह दिया | लेकिन वो इतिहास में जिन्दा है , रहेंगे | साथ हीं आज वो जिस दुनियां में है , वहां से भारत का प्रदर्शन व ख़ुशी देख रहे होंगे और नीरज चोपड़ा द्वारा दिया गया मैडल भी स्वीकार किया होगा | 

Reporter

  • Prashant Sarkar
    Prashant Sarkar

Related News